Turmeric: Amazing Health Tonic

10603959_10208180132485777_2265844972204864942_o

कई रासायनिक दवाओं से बेहतर है हल्दी, दावा है इस बात का

जरा इन दवाओं को गौर से जानें…लिपिटर/ एटरवास्टाटिन (कॉलेस्ट्रॉल), कॉर्टिकोस्टेरॉयड (स्टेरॉयड), प्रोजेक/ फ़्लोक्सेटाइन और इमीप्रामाइन (डिप्रेशन), एस्प्रीन (ब्लड थिनर), इबुप्रोफ़ेन, नाप्रोक्सेन, इन्डोमेथासिन, डायक्लोफ़िनाक, डेक्सामेथासोन, सेलेकॉक्सिब, टेमोक्सिफेन (एंटीइन्फ्लेमेटरी ड्रग्स), ऑक्सेलीप्लाटिन (कीमोथेरापी), मेटफ़ोर्मिन (डायबिटीस)..ये सारी रासायनिक और कृत्रिम दवाएं हैं जिनका बाज़ार काफी तगड़ा है और इनके ग्राहक आप- हम सब। जेब को ढ़ीली करने वाली इन दवाओं और इसी तरह की कम से कम १८ ऐसी ही दवाओं से बेहतर प्रभाव हमारी अपनी “हल्दी” में देखा जा सकता है। हर व्यक्ति को कम से कम २ चम्मच शुद्ध हल्दी के पाउडर का सेवन नियमित करना चाहिए। हल्दी आपके व्यंजनों को खूबसूरत दिखाने के लिए नहीं है, आपकी सेहत को दुरुस्त करने के लिए इन तमाम रासायनिक दवाओं की बॉस है। १९९८ से २०१५ तक तमाम इंटरनेशनल जर्नल्स में प्रकाशित सैकड़ों शोध रिपोर्ट्स खंगाले जा सकते हैं जो दावे को सच साबित करेंगे। हल्दी को ज्यादा से ज्यादा उपयोग में लाएं..आपको नहीं पता कि आपकी सेहत दुरुस्ती का असली डॉक्टर आपकी अपनी रसोई के भीतर किसी डिब्बे में बंद पड़ा है।

About Dr Deepak Acharya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

*

code

x

Check Also

रोज २ चम्मच तिल चबाना शुरु कर दें

तिल के बीज जबरदस्त औषधीय गुणों की खान हैं और सदियों से इन्हें पारंपरिक तौर ...

Powered by Dragonballsuper Youtube Download animeshow